Friday, September 23, 2022

मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान हर किरदार के लिए हद तक गुजर जाते हैं, जानिए उनकी हिट फिल्में

- Advertisement -

हाल ही में आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्डा बायकाट ट्रेंड के चलते फ्लॉप साबित रही थी| लेकिन फिल्म में उनकी एक्टिंग देखने लायक है। बॉलीवुड के सुपरस्टार आमिर खान को मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से भी पुकारा जाता है। इसके पीछे किरदार को लेकर उनकी दीवानगी है। वे जिस फ़िल्म को साइन करते हैं, उनके किरदारों में जान डालने के लिए किसी भी हद जाने के लिए तैयार रहते हैं। आइए उन फिल्मों और किरदारों के बारे में जानते हैं आमिर ने किरदारों के लिए खूब मेहनत की।

 रंगीला

- Advertisement -

 

रामगोपाल वर्मा की इस फ़िल्म में आमिर ने मुन्ना का किरदार निभाया था। मुन्ना एक टपोरी बंदा होता है जिसे किसी से भी डर नही लगता। इस फ़िल्म के किरदार को जीवंत करने के लिए आमिर मुंबई की उन गलियों में अकेले ही चल पड़ते थे जहां वहाँ के लोकल लोग रहते हैं और टपोरी भाषा का प्रयोग करते हैं।

- Advertisement -

उन लड़कों के बीच जाकर आमिर ने उनके जैसा रवैया सीखा उन्हीं लोगों के बीच रहकर आमिर ने मुन्ना के लिए ड्रेस और हेयर स्टाइल भी चुना। मुन्ना के लिए उन्होंने लगभग 1 सप्ताह तक शावर भी नही लिया था। फ़िल्म जब रिलीज हुई तो उनकी मेहनत रंग लाई।

फना

 

कुणाल कोहली की इस फ़िल्म को यश राज फ़िल्मज़ ने प्रोड्यूस किया था। फ़िल्म में आमिर खान को रोमांटिक अंदाज़ में शायरी बोलने थे। उन्होंने इसके लिए बहुत अभ्यास किया। एक सीन में आमिर के किरदार को दौड़ते हुए गाड़ी का पीछा करना था। आमिर ने उस सीन में रियलिटी डालने के लिए लंबी दूरी तक दौड़ने का निर्णय लिया।

उनके इस कार्य से लोग उन्हें मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से पुकारने लगे। फना फ़िल्म से काजोल ने शादी के बाद से कमबैक किया था। यह फ़िल्म सुपरहिट रही थीं।

 दंगल

 

इस बायोपिक में आमिर खान ने किरदार के लिए वो सब कुछ किया जो अन्य सितारे नही कर सकते थे। फ़िल्म को उन्होंने बहुत टाइम दिया। महावीर फोगाट के किरदार को पूरी तरह से उतारने के लिए उन्होंने अपने वजन को 68 किलो से 95-97 किलो तक पहुँचाया।

फिर शूट करने के बाद वजन को कुछ ही महीनों में घटाकर वापिस 70 किलो के आस पास किया। वजन को कुछ ही महीनों में घटाने बढ़ाने से बहुत सी हेल्थ इश्यू हो सकती थी। आमिर ने कुश्ती के दांव पेंच भी सीखे। वजन बढ़ाने के समय आमिर को अपने मसल्स को बरकरार रखने के लिए जिम भी करना पड़ता था।

 ठग्स ऑफ हिंदुस्तान

 

आमिर की इस फ़िल्म में वे पहली बार अमिताभ के साथ काम कर रहे थे। हालाँकि 2001 में आई लगान में अमिताभ ने आवाज़ ज़रूर दी थी। इस फ़िल्म में फिरंगी के किरदार के लिए आमिर ने अपने नाक और कान दोनों छिदवाए थे।

फ़िल्म बुरी तरह से डिजास्टर रही लेकिन आमिर ने अपनी तरफ से फ़िल्म के लिए कोई कमी नही छोड़ी थी। यह आमिर खान के करियर की सबसे खराब और बिग्गेस्ट फ्लॉप में गिनी जाती है। इस फ़िल्म के बाद आमिर अब लाल सिंह चड्ढा में नज़र आने वाले हैं।

 गजनी

आमिर खान ने इस फ़िल्म के लिए सिर से बाल भी छिलवा दिए थे और जिम में मेहनत करके 8 पैक एब्स भी बनवाये थे। उस दौर में आमिर के लुक की काफी चर्चा हुई थी। उनके जैसे लोग बालों को बारीक कटवाकर चोट का निशान बना लेते, जिसे गजनी कट के नाम से जाना जाता था। इस फ़िल्म के बाद आमिर ने तुरंत ही 3 इडियट्स की शूटिंग शुरू की जिसमें उन्हें बेहद पतला दिखना था और उन्होंने रैंचो के किरदार से दिल जीत लिया।

इन सब के साथ ही आमिर हर फिल्म में अपने किरदारों के लिए बेहद मेहनत करते हैं। मंगल पांडेय, गुलाम, अर्थ, धूम3, रंग दे बसंती के साथ पीके में भी उन्होंने जमकर मेहनत की थी और नतीजे भी अच्छे निकले।

 

 

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular