Sunday, September 25, 2022

नेताजी की मूर्ति के अनावरण पर जावेद अख्तर का विवादित बयान, बोले- प्रतिमा को लेकर पसंद सही नहीं है

- Advertisement -

महान स्वतंत्रता सेनानी और आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनकी प्रतिमा का अनावरण किया गया। बीते रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली स्थित इंडिया गेट के सामने नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया था।

- Advertisement -

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि  नेताजी की यह प्रतिमा हमारी लोकतांत्रिक संस्था, पीढ़ियों और कर्तव्य का बोध कराएगी। आने वाली और वर्तमान पीढ़ी को निरंतर प्रेरणा देती रहेगी।

बता दें, अब इस प्रतिमा को लेकर विवाद छिड़ गया है जिसकी वजह जावेद अख्तर हैं। मशहूर संगीतकार जावेद अख्तर ने नेताजी की प्रतिमा को लेकर हाल ही में ट्वीट किया है जिसपर अब विवाद छिड़ गया है। उन्होंने नेताजी की प्रतिमा की पोजिशन को लेकर असहमति व्यक्त की थी।

- Advertisement -

इस मामले में उन्होंने लिखा कि  ‘नेताजी की प्रतिमा का विचार तो अच्छा है लेकिन प्रतिमा को लेकर पसंद सही नहीं है। पूरे दिन इस प्रतिमा के ईर्द-गिर्द ट्रैफिक चलता रहेगा और प्रतिमा का पोज सैल्यूट करते हुए होगा। यह उनकी प्रतिष्ठा के हिसाब से ठीक नहीं है। यदि इस प्रतिमा में वह बैठे हुए होते या फिर अपने हाथ को हवा में लहराते हुए जैसे कोई नारा लगा रहे होते तो अच्छा होता।’

गौरतलब है, जावेद अख्तर के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें काफी ट्रोल किया जा रहा है। लोग उनपर फब्तियां कस रहे हैं। एक यूजर ने उनके इस ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा कि ‘वह आपको सलाम नहीं कर रहे हैं। वह भारत माता को प्रणाम कर रहे हैं। यह ठीक वैसे ही है जैसे लोग रथ से बादशाह को सलाम कर रहे थे, लेकिन गधों को लगा कि लोग उन्हें सलाम कर रहे हैं। यह तब होता है जब आपके पास मूर्तिपूजा की सांस्कृतिक पृष्ठभूमि होती है।’

मालूम हो, नेताजी सुभाष चंद्र की मूर्ति का निर्माण मशहूर मूर्तिकार अद्वैत गडनायक कर रहे हैं। जानकारी के मुताबकि, यह मूर्ति पूरी तरह से ग्रेनाइट की बनी होगी। यह 28 फीट लंबी होगी।

 

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular