Friday, May 24, 2024

Udaypur हत्याकांड : दर्जी पर हमले के समय भीड़ जान बचाकर भागी ,अकेले ईश्वर सिंह हमलावरों से भिड़ गए

- Advertisement -
- Advertisement -

Udaipur Murder Case: राजस्थान में उदयपुर की घटना में नए खुलासे हो रहे है। हमलावरों ये संबंध पाक से होने की बात भी सामने आयी है।  दोनों हत्यारे गिरफ्त में है और UAPA एक्ट के तहत उनपर कार्यवाही होगी ।

उदयपुर में दुकान में जाकर कन्हैयालाल पर जब दोनों हमलावरों ने हमला किया तो उस समय मौजूद ईश्वर सिंह  बचाने के लिए दोनों हमलावर से भिड़ गए. लेकिन वे अकेले पड़ गये और दोनों आरोपियों ने ईश्वर सिंह पर भी हमला किया, जिससे वे भी गंभीर रूप से घायल हो गए.उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  इलाज के दौरान उन्हें 16 टांके लगे हैं.

उदयपुर की इस घटना में को लेकर हर कोई सन्न है. हमलावर गिरफ्तार किये जा चुके है और उनका कनेक्शन पाकिस्तान से भी निकलने की बात सामने आ रही है । दोनों पर UAPA एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी ।.

जब दोनों धर्मांध हमलावर गौस मोहम्मद और रियाज ने दर्जी कन्हैयालाल पर हमला किया, तो आस पास मौजूद लोग दहशत के मारे भागने लगे । मगर ईश्वर सिंह ने हिम्मत दिखाई और हमलावरों से भिड़ गए।  वहां से नहीं भागे, बल्कि दोनों आरोपियों का बहादुरी से मुकाबला किया.

वे कन्हैयालाल टेलर को बचाना चाहते थे और खूब प्रयास भी किया लेकिन आरोपियों ने उन पर भी बेरहमी से वार कर दिया , जिसके बाद उन्हें गंभीर चोटें आई।  ईश्वर सिंह को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया ।  ईश्वर सिंह का इलाज उदयपुर के महाराणा भूपल अस्पताल में चल रहा है. बताया जा है कि उन्हें काफी गंभीर चोट आई है, और 16 टांके लगे है।

अगर आस पड़ोस के लोग और घटना के वक्त वहां से गुजर रहे लोग भी हिम्मत दिखाते तो शायद कन्हैयालाल की जान बचाई जा सकती थी।

8 साल के बेटे के पोस्ट डालने पर ली जान

घटना में मारे गए टेलर कन्हैयालाल के 8 साल के बेटे ने नूपुर शर्मा का समर्थन करते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी थी । जिसके बाद टेलर को जान से मारने की धमकी दी गयी । टेलर ने इसकी शिकायत पुलिस से भी की लेकिन सुरक्षा नही मिल पाई।  जिसके बाद रियाज और गोस मोहम्मद नाम के 2 आरोपियों ने टेलर कन्हैयालाल लाल की दुकान में घुसकर जान ले ली। 

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here