Saturday, June 25, 2022

दिल्ली यूनिवर्सिटी के शंकरलाल ऑडिटोरियम में हुआ अंतर्राष्ट्रीय गुर्जर दिवस का भव्य आयोजन।

- Advertisement -

22 मार्च, भारत सरकार के राष्ट्रीय कलेंडर शक संवत नव वर्ष को गुर्जर समुदाय द्वारा अंतर्राष्ट्रीय गुर्जर दिवस के रूप में बड़े धूमधाम से मनाया गया।  गुर्जर सम्राट कनिष्क के राज्यारोहण के उपलक्ष्य में हर वर्ष ये आयोजन किया जाता है ।  इस वर्ष भी इसे देश-विदेश में जगह जगह मनाया गया जिसमें जयपुर, सहारनपुर, जम्मू, बूंदी राजिस्थान, ग्रेटर नोएडा के सिग्मा 4 क्लब व जेएनयू टीम द्वारा कला संकाय में मनाया गया ।

गुर्जर परिवार के सदस्य सतेंद्र नागर आर्य बंधु ने बताया कि इस बार मुख्य आयोजन गुर्जर परिवार टीम के बैनर तले दिल्ली के श्री शंकरलाल कंसर्ट हाल में किया गया जहाँ देश भर से अनेक गुर्जर शख्सियतों ने आयोजन में हिस्सा लिया । कार्यक्रम में सैकड़ो की संख्या में लोगो ने भाग लिया ।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोक सभा साँसद व उद्यमी श्री मलूक नागर जी ने कहा कि समाज शिक्षा व एकता के माध्यम से सही दिशा में आगे बढ़ रहा है, उन्होंने समारोह में आये समाज के लोगो से सीधा संवाद किया और गुर्जर समाज के उद्यमियों के लिए ओबीसी कोटे से बैंक लोन में दलितों की तरह आरक्षण, गुर्जर रेजीमेंट, जमीन अधिग्रहण, क्रीमी लेयर की लिमिट, गुर्जर आरक्षण पर उनके प्रश्नों का उत्तर दिया और समाज के साथ हमेशा खड़ा रहने ओर समाज के सर्वागींण विकास के मुद्दों को संसद में उठाते रहने का वादा किया ।

International Gurjar Day in Delhi
- Advertisement -

राजस्थान गुर्जर आरक्षण समिति के अध्यक्ष कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला जी के सुपुत्र श्री विजय बैंसला ने अपने संबोधन में कहा कि गुर्जर समाज को राजस्थान में मिला आरक्षण काफी नही । समाज को नई चेतना का प्रसार करना होगा और अपने समाज के ग्रामीण क्षेत्र के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए ऐतिहासिक लड़ाई लड़नी होगी।
दिल्ली प्रदेश कॉंग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी, जयप्रकाश छाबड़ी जी व 3 बार से विधायक मदनलाल जी ने भी समाज के युवाओं को मार्गदर्शित किया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम में गायक कुणाल चपराना, प्रियंका नागर, इंस्टाग्राम की फेमस 92 वर्षीय मॉडल दादी, इंस्टाग्राम इंफ्लुएंसर गौरव पोषवाल व रागिनी गायक मनबीर व सोनम भाटी ने शानदार प्रस्तुतियां दी।
इतिहासकार व उगता भारत के सम्पादक ओर कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि डॉ राकेश आर्य व सुशील भाटी ने गुर्जर समाज के गौरवशाली इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कनिष्क काल व गुर्जर प्रतिहार काल के महानतम सम्राट मिहिरभोज के जीवनकाल पर ऐतिहासिक तथ्यों पर प्रकाश डाला।

- Advertisement -

कार्यक्रम में गुर्जर समाज की प्रमुख राजनीतिक हस्तियों के अलावा समाजसेवी, व्यवसायी, एडवोकेट, शिक्षक, डॉक्टर, प्रशासनिक अधिकारी समेत तमाम लोग एक छत के नीचे जुटे ओर सभी ने गुर्जर परिवार द्वारा चलाई जा रही महिला सशक्तिकरण, शिक्षा, पुस्तकालय, रोजगार, उद्यमिता, खेल, कला व मनोरंजन जैसे क्षेत्रों में समाज के युवाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करने वाली मुहिम की प्रसंसा की ओर अपने गौरवशाली व सम्रद्धशाली इतिहास पर गर्व करने और शिक्षा को शस्त्र बनाकर भविष्य उज्जवल करने के लिए प्रयासः करने का आह्वान किया ।

International Gurjar Day in Delhi

सभी वक्ताओं ने एक सुर में इस बौद्धिक चिंतन शिविर मे समाज के ज्वलन्त मुद्दों, समाज मे शिक्षा के प्रचार प्रसार, समाज के दबे इतिहास ओर अपनी संस्कृति को बचाने के मिलकर सामूहिक प्रयास करने का निर्णय लिया साथ ही समाज के उत्थान मे मिलकर एक दूसरे के लिए मदद की भावना की भी बात कही गई ।

प्रख्यात मोटोवेशनल वक्ता श्री अमर चौधरी, खविंद्र चौधरी व श्रीमति शशि नागर ने कार्यक्रम का कुशलतापूर्वक मंच संचालन कर कार्यक्रम मे उपस्थित जनसमूह का दिल जीत लिया।

GICCI के चेयरमैन व गुर्जर परिवार के वरिष्ठ सदस्य देवेंद्र खारी ने बताया कि कार्यक्रम को सफल बनाने मे दिनरात जुटे महेंद्र कसाना, मनोज नागर, एडवोकेट विकास विधूड़ी, श्री सचिन पंवार, दिल्ली विश्विद्यालय के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अंकिव बसोया व ABVP से अभिषेक वर्मा, राजीव मावी ,राजीव विकल, शक्ति सिंह, मंगल कसाना व कोषाध्यक्ष विपिन खारी समेत गुर्जर परिवार के सभी सदस्यों का सफल आयोजन में सराहनीय योगदान रहा

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular