Sunday, May 26, 2024

Munna Bhai MBBS: संजय दत्त और अरशद वारसी की बेस्ट जोड़ी का तीसरा पार्ट नहीं बनेगा, मुन्ना भाई और सर्किट की कहानी हुई खत्म !

अरशद वारसी ने अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुवे कहा- इस फिल्म ने एक तरह से मेरे करियर को जीवनदान दिया था. सर्किट का किरदार मेरे लिए संजीवनी बूटी की तरह था. इस फिल्म से पहले तीन चार सालों तक मेरे पास कोई काम नहीं थी.

- Advertisement -
- Advertisement -

‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’ फिल्म को यादगार बनाने में सबसे अहम रोल रहा है संजय दत्त और अरशद वारसी का. मुन्ना भाई और सर्किट की केमिस्ट्री लोगो को खूब पसंद आई, फिल्म की तरह इन दोनों की जोड़ी भी हिट रही. मुन्ना भाई के रोल में संजय दत्त और सर्किट के रोल में अरशद वारसी ने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया था. इनकी जोड़ी इतनी हिट रही कि डायरेक्टर राजकुमार हिरानी ने इसका दूसरा पार्ट ‘लगे रहो मुन्ना भाई’ बना डाली इस बार भी फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा दी. अब दर्शको को मुन्ना भाई पार्ट 3 का बेसब्री से इंतज़ार है. पर क्या दर्शकों को मुन्ना भाई और सर्किट की जोड़ी एक बार फिर देखने को मिलेगी इस पर अभी भी सस्पेंस बना हुआ है.

फैंस की टूटी उम्मीद

दरअसल सर्किट यानी अरशद वारसी इन दिनों अपनी सीरीज़ मॉडर्न लव को लेकर व्यस्त हैं और जमकर प्रमोशन चालू है. ऐसे में उन्होंने अपने सबसे प्यारे किरदार सर्किट को लेकर एक खास अपडेट दी है जो आपका दिल तोड़ देगा. अरशद वारसी ने एक इंटरव्यू के दौरान ये बतया कि मुन्ना भाई का तीसरा पार्ट नहीं बनेगा. अरशद ने कहा- ‘पिछली फिल्म को बने 16 साल हो चुके हैं और मैं चाहता हूं कि मुन्नाभाई का तीसरा भाग बने. दर्शक भी लंबे समय से इस फिल्म का इंतज़ार कर रहे हैं’. अरशद ने कहा हम अपने फैंस को बहुत कुछ देते हैं, लेकिन ये बहुत लंबा रहा है. एक्टर ने आगे कहा कि उन्हें लगता है इस फिल्म का पार्ट 3 शायद नहीं बने.

सर्किट किरदार ने रुके हुए करिअर में भर दी जान

अरशद वारसी ने अपनी बातों को आगे बढ़ाते हुवे कहा- कि इस फिल्म से उनके रुके हुए कॅरिअर को रहफ्तार मिली है मुन्ना भाई एमबीबीएस ने बॉलीवुड में उनके सफर को फिर से ज़िंदा किया है. इससे पहले कुछ सालों तक उनके पास कोई कम् नहीं था लेकिन इस फिल्म में सर्किट का रोल करने के बाद मानों उनके कॅरिअर को एक नई उड़ान मिली.

फिल्म के डायरेक्टर राजकुमार हिरानी का समर्थन लेते हुवे अरशद ने कहा- बेहद क्रिएटिव इंसान को आप एक ही काम बार बार करने को कह दें तो वो उसे घुटन होने लगती है. एक एक्टर के तौर पर हमें आगे बढ़ना होता है. मुझे यकीन है कि राजू भी तरह तरह की फिल्में बनाना चाहते हैं. इसलिए भी क्यों एक डायरेक्टर एक फिल्म बनाने में काम से कम तीन चार साल लगा देता है.

बता दें कि ‘मुन्ना भाई ‘ फिल्म में संजय दत्त और अरशद वारसी के अलावा बोमन ईरानी, ग्रेसी सिंह और जिमी शेरगिल भी थे. और मुन्ना भाई एमबीबीएस फिल्म में विद्या बालन ने अहम भूमिका निभाई थी.

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here