Tuesday, May 28, 2024

“लेडी गागा” के जीवन का वह पन्ना जिसे पढ़ कर रह जाएंगे दंग

- Advertisement -
- Advertisement -

स्फनी जोने एंजेलिना गेरमनोट्टा, जो ‘लेडी गागा’ के नाम से विश्व प्रसिद्ध हैं, उनका जन्म 28 मार्च 1986 को हुआ था। लेडी गागा अपनी आवाज़ के लिए पहचानी जाती हैं। इसके अलावा वे एक अभिनेत्री भी हैं जो कई फिल्मों में काम कर चुकीं है। इनमें उनकी मुख्य फिल्में जैसे A STAR IS BORN, HOUSE OF GUCCI और MY NAME IS LADY GAGA शामिल हैं। हर कलाकार की एक कहानी होती है सफलता तक पहुंचने की और अपनी एक पहचान बनाने की। ऐसे में कई कलाकार ऐसे भी होते हैं जो अपने बुरे समय से उठके, उभरके पहचान बनाते हैं। लेडी गागा की कहानी भी कुछ ऐसी ही है।

 ‘THE ME YOU CAN’T SEE’

2014 के ‘ओपरा विनफ्रे और प्रिंस हैरी शो’ ‘The me you can’t see’ में लेडी गागा ने अपनी ज़िन्दगी के कुछ पन्ने खोले जो हैरान कर देने वाले थे।

यह टीवी सीरीज़ मेन्टल हेल्थ से जुड़ी चीज़ों और घटनाओं पर आधारित थी। शो के दौरान लेडी गागा ने अपने जीवन की ऐसी घटना का वर्णन किया जिसने उनके आत्मविश्वास को झंझोड़ कर रख दिया था। उन्होंने साक्षात्कार में बताया कि “मैं 19 साल की थी और व्यवसाय में काम कर रही थी, निर्माता ने मुझसे कहा, ‘अपने कपड़े उतारो,’ उसने कहा ” मैंने कहा नहीं और मैं चली गयी, उन्होंने मुझसे कहा कि वे मेरे सारे संगीत को जलाने जा रहे हैं। वे रुके नहीं। उन्होंने मुझसे पूछना बंद नहीं किया तब मैं बस जम गयी और – मुझे याद भी नहीं है। ” उन्होंने कहा “जिस व्यक्ति ने मेरा बलात्कार किया, उसने मुझे गर्भवती छोड़ दिया”।

हालाँकि उन्होंने निर्माता का नाम या पहचान गुप्त रखी है। उन्होंने बताया कि वे अब ज़िंदगी में कभी उनका चेहरा देखना नहीं चाहेंगी। गागा ने बताया कि लगभग 7 सालों तक उन्होंने इस घटना के बारे में किसी से कोइ बात नहीं करी। इस घटना के लिए वे खुद को ही ज़िम्मेदार मानती थीं। लेडी गागा ने अपने साथ हुए इस अपराध के बारे में सबसे पहले डी.जे होवार्ड स्टर्न को बताया था। इस से पहले तक उन्होंने खुद को एक पिंजरे रखा था जिससे बाहर आना काफी कठिन था। लेडी गागा के अनुसार इस घटना ने उन्हें शरीर से लेकर आत्मा तक बदल दिया था।

2016, जिस साल ऑस्कर अवार्ड्स में गागा ने यौन उत्पीड़न से बचे लोगों के साथ प्रदर्शन किया था, उस साल उन्होंने ‘पियर्स मॉर्गन’ को उनकी स्थिति को “घृणित बकवास” बताने के लिए हड़काया था।

शो में अपने दुःख को ज़ाहिर करते हुए उनकी आँखों में आंसू आ गये थे। भरी आवाज़ में उन्होंने बताया कि बार-बार उन्हें एंग्जायटी अटैक आते थे। 2020 में उन्होंने ‘विनफ्रे’ के टॉक शो में बताया था कि “मैंने इस से कभी निपटने की कोशिश नहीं करी और फिर अचानक मैंने अपने पूरे शरीर में इस अविश्वसनीय तीव्र दर्द का अनुभव करना शुरू कर दिया जो उस बीमारी की नकल करता था जो मुझे बलात्कार के बाद महसूस हुई थी।”

लगभग दो साल बाद सभी दिक्कतों से दर्द से उभरकर उन्होंने 2008 में पहली एल्बम के साथ डेब्यू किया जो वैश्विक स्तर पर कामयाब हुई। उनकी यह एल्बम US की सर्वश्रेष्ठ एलबम्स में शामिल हुई। साथ ही 2018 में उन्होंने फिल्मो में अपने करियर की शुरुआत A STAR IS BORN नामक फिल्म से करी। इसके लिए उन्हें ऑस्कर अवार्ड्स में नॉमिनेट भी किया गया था।

अपराध की कोई सीमा नहीं होती। अपराध घर-परिवार, पुरुष-महिला, अमीर-गरीब कुछ नहीं देखता। ज्यादातर लोगों को लगता है कि ऐसे अपराध गरीब वर्ग के लोगो में या सामान्य वर्ग के लोगों में ही होते हैं। लोगों को लगता है कि सामान्य और निचले वर्ग की महिलायें ही इन अपराधों के पंजे तले दबीं हुईं हैं लेकिन सच्चाई इस से उलट है। महिलाओं के प्रति घटिया सोच और विचारों का शिकार समाज में हर कोई है, फिर चाहे वह सामान्य वर्ग हो या फिर उच्च वर्ग।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here