Saturday, September 24, 2022

गुर्जर डिलेमा के “ मंच “ पर गुर्जर लेखकों ने बांधा समाँ ।

- Advertisement -

बीते रविवार दिल्ली के शादीपुर स्थित स्टूडियो सफ़दर में गुर्जर डिलेमाज़ के तत्वाधान में अपने किस्म का एक अनोखा आयोजन किया गया , आयोजन का नाम था “ मंच – गुर्जर राईटर्स मीट” जिसमें गुर्जर समाज से जुडे लेखक , लेखिकाओं , कवि , कवियित्रियों ने हिस्सा लिया ।

दिल्ली -एनसीआर के अलग अलग क्षेत्रों से आये गुर्जर समाज के लेखकों ने दिल खोलकर “मंच “ कै माध्यम से अपनी बात रखी और अपनी रचनाएँ एक दूसरे को सुनाईं।आयोजक टीम की सदस्या संजू बिधूड़ी ने बताया इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य गुर्जर लेखकों को एक छत के नीचे लाकर एक ऐसा मंच प्रदान करना है जिस से वो एक दूसरे को जान सके और अपनी संस्कृति से जुडे रहकर एक साथ आगे बढ सकें । कार्यक्रम के अंत में मशहूर रागनी कलाकार स्व० श्री सतपाल दौसा जी को याद किया गया और सभी मेहमानों को उनके नाम का बुकमार्क भेंट किया गया।

- Advertisement -

आयोजक टीम के एक सदस्य गगनदीप बिधूडी ने कहा सफदर हाशमी और सतपाल दौसा जी जैसे महान कलाकारों एक साथ ला पाना उनके जीवन का सबसे हसीन हादसा है । कार्यक्रम में शिरकत करने आये लेखक मनीष पोसवाल ने कहा कि हमारे कलाकारों को अक्सर वो सम्मान नहीं मिल पाता जिसके वो हकदार हैं , हमें मंच के माध्यम से सरकार से, सतपाल दौसा जी जैसे महान कलाकार के लिये पद्मभूषण की मांग करनी ही चाहिये ।

मंच के इस कार्यक्रम को इनटू दा वुड्स, कनातल ने स्पॉसर किया, मीडिया पार्टनर के तौर पर पॉपुलर इंडियन और यू ट्यूब प्रोडक्शन के तौर पर पॉइंट एंड ऑफ सेंटेंस जुडे रहें । पूरे कार्यक्रम को आयोजक टीम की सदस्या बिंदू रॉमी गुर्जर ने अपने कैमरे में बखूबी कैद किया । लगभग पांच घंटे चले इस आयोजन की आये सभी मेहमानों ने जमकर सराहना की ,

- Advertisement -

आयोजक टीम के सदस्य संकेत चंदीला ने कहा कि “मंच” गुर्जर डिलेमाज जोकि एक इंस्टाग्राम पेज है, उसकी एक अनूठी पहल है और इसे आगे भी जारी रखने का प्रयास किया जायेगा।

कार्यक्रम में हार्वे तंवर, मॉरिश नागर, सुमीर भाटी, सचिन भाटी , दीपिका भाटी ,विशेष प्रताप गुर्जर, राहुल गुर्जर, पारूल सिंह नूर, उपासना खटाना, गरिमा डेढा, प्रशस्ति बैंसला, राजीव विकल, रचना नागर, सुनील नागर, योगी बैंसला, राहुल बैंसला, अमित बैसोया, अमित नागर, पीयूष चपराना, गौरव नागर, कपिल भाटी और आकाश डेढा,अनिकेत भडाना आदि लोगों ने हिस्सा लिया ।

Gujjar Dilemmas organised a writer’s meet “Manch”.

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular