Thursday, August 4, 2022

दुनियां की टॉप 5 कंपनियों के भारतीय CEO जिन्होंने अपना लोहा दुनियां में मनवाया

- Advertisement -

भारतीय CEO जिन्होंने दुनिया की बड़ी कम्पनियो की बागडौर संभाली – वैसे तो हमारा देश अपनी ऐतिहासिक परम्परा और सभ्यता के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है. लेकिन हम सभी चीजों में कितना भी आगे क्यों न चले जाये. पर दुनिया हमें खुद्द को आगे रखने के लिए पीछे ही रखती है.

अगर भारतीयों  के हुनर की बात करें तो भारत के इतिहास में कुछ ऐसे भी लोग रहे है. जिनकी काबलियत को दुनिया ने सलाम किया है. इनमें स्वामी विवेकानंद और महात्मा गाँधी जैसे लोग शामिल है. हालाँकि आज के समय में भी भारत के कई ऐसे लोग है, जो दुनिया भर के बड़े बड़े पद पर बैठे है. आइये जानते है उन भारतीय CEO के बारे में जो दुनिया की बड़ी बड़ी कम्पनियों के CEO जैसे बड़े पद पर आसीन है.

भारतीय CEO की लिस्ट में सबसे पहले गूगल के सीईओ ( CEO ) सुंदर पिचाई ( Sundar Pichai )

- Advertisement -

हमारी इस लिस्ट में भारतीय CEO में सबसे पहला नाम आता है सुंदर पिचाई का जिन्होंने अपनी टेक्निकल स्किल से गूगल जैसी बड़ी कम्पनी में CEO जैसा बड़ा पद हासिल किया. लेकिन ऐसा नहीं है की उन्होंने कभी बुरा वक्त नहीं देखा. सुंदर पिचाई ने भारत में ही रहकर IIT खड़गपुर से IIT की डिग्री लेकर स्टेनफोर्ड युनिवर्सिटी में एडमिशन ले लिया.

जिसके बाद पिचाई ने अपनी MBA की डिग्री भी हासिल की. कुछ जगह जॉब करने के बाद सुंदर पिचाई ने 2004 में गूगल कम्पनी को ज्वाइन कर लिया. जहां उनकी शुरुआत काफी छोटे लेवल पर हुयी थी. लेकिन अपनी काबलियत के दम पर सुंदर पिचाई ने  मेनेजमेंट से लेकर गूगल के CEO बनने तक का सफर पूरा किया. आज गूगल जिस उचाईयों को छू रहा है उसमें कही न कही भारत के सुंदर पिचाई का हाथ है.

माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला ( Satya Nadella )

- Advertisement -

भारतीय CEO की हमारी इस लिस्ट में दुसरा नाम आता है सत्या नडेला का जो माइक्रोसोफ्ट के तीसरे CEO है. जो विल गेट्स और स्टीव वोल्मर के बाद से माईक्रोसॉफ्ट के CEO की कुर्सी सम्भालें हुए है. और आपको जानकर खुशी होगी की उनके गाइडेंस के बाद से ही ये कंपनी दुनिया की सबसे मोस्ट वैल्युवल कम्पनी बन गयी है.

एडोबी कंपनी के सीईओ शांतनु नारायण ( Shantanu Narayan ) भी भारतीय CEO

हमारी इस लिस्ट के तीसरे नम्बर पर आते है ADOBE के CEO शांतनु नारायण. नारायण ने इस कंपनी को 1998 में ही ज्वाइन कर लिया था. लेकिन अपनी काबलियत और स्किल्स के दम पर ये उस कंपनी के CEO बन गये.

जिसके बाद उन्होंने कंपनी के कई  महत्वपूर्ण पदों पर काम किया है. उनकी इसी योग्यता के आधार पर एक मैगजीन ने उन्हें वर्ल्ड का बेस्ट CEO बताया था. इसके अलावा उन्हें पद्म श्री के सम्मान से भी नवाजा जा चूका है.

यह भी पढ़े भारत के 5 अविष्कार जिन्होंने दुनियां पर प्रभाव छोड़ा या दुनिया बदल दी

नोकिया कंपनी के CEO राजीव सूरी ( Rajeev Suri )

हमारी इस लिस्ट ( भारतीय CEO ) में चौथे नम्बर पर आते है नोकिया कम्पनी के CEO राजीव सूरी. जो वर्तमान इस कम्पनी की बागडोर  सम्भालें हुए है. ये वही कम्पनी है जिसके फोन एक समय पर एप्पल से भी ज्यादा फेमस हुआ करते थे. क्योंकि इसके फोन एक बार कोई खरीद लेता था. वो कम से कम 10 साल तक उस फोन को इस्तेमाल किया करता था. और आज भी कुछ यूजर्स की पास नोकिया के पुराने फोन है.

जब राजीव सूरी कम्पनी के CEO बने थे. तब नोकिया बहुत घाटे में चल रही थी. लेकिन इन्होने अपनी मेहनत और आइडियाज के दम पर इस कम्पनी को मार्केट में फिर से जगह दिलवाई. उनकी इसी काबिलियत को देखते हुए फ़िनलैंड ने उन्हें 2016 का बिजनेस लीडर ऑफ़ इयर का अवार्ड देकर सम्मानित किया.

एरिस्टा कम्पनी की CEO जयश्री उल्ला ( Jayshree Ullal )

हमारी इस लिस्ट में पांचवे नम्बर पर आती है ARISTA कम्पनी की CEO जयश्री उल्ला. जिनकी पैदाइश तो लंदन की है. लेकिन उनकी परवरिश भारत में हुयी थी. बाद में वो एरिस्टा कम्पनीकी CEO बन गयी. शायद आप इस कम्पनी के बारे में नहीं जानते हो. बता दें एरिस्टा कम्पनी दुनिया की कम्प्यूटर एंड नेटवर्किंग कम्पनीयों में टॉप पर आती है.

यह भी पढ़े :- 6 बाय 6 के कमरे में पढाई कर बने फोर्ड में इंजीनियर,भावेश लोहार की कहानी भावुक कर देगी

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular