Friday, September 23, 2022

करीना ने जब बिपाशा को कह दिया था काली बिल्ली, जानें अजनबी फ़िल्म से जुड़े रोचक किस्से

- Advertisement -

बॉलीवुड की अपनी तरह की एक ऐसी फ़िल्म जिसमें वाइफ स्वैपिंग की बात हो रही थी। ऐसी फ़िल्म जिसके विलन खिलाड़ी कुमार थे। अब्बास मस्तान की अजनबी विदेशी फ़िल्म ‘कंसेंटिंग एडल्ट्स’ (Consenting Adults 1992) से प्रेरित थी। इस फ़िल्म ने अक्षय को बेस्ट एक्टर इन नेगेटिव रोल का फिल्मफेयर अवार्ड दिया था और बिपाशा को फिल्मी दुनिया मे एंट्री। यह अक्षय की अब्बास मस्तान के साथ दूसरी फिल्म थी।

- Advertisement -

करीना और बिपाशा की कैट फाइट रही थी चर्चित

अजनबी की शूटिंग के दौरान ही मीडिया में बॉलीवुड में पदार्पण कर चुकी बेबो और नई अभिनेत्री बिपाशा के बीच कैट फाइट की खबरें आने लगी थी। अब्बास-मस्तान ने उनकी कैट फाइट से फ़िल्म पर कोई असर नही होने दिया। दोनों में फ़िल्म के शूटिंग के दौरान जो अनबन शुरू हुई वो कई सालों तक चलती रही। कहा जाता है कि बिपाशा के पीठ पीछे बेबो उन्हें काली बिल्ली कहकर पुकारा करती थी। बिपाशा बसु को बंगाली बाला के नाम से लोग जानते हैं। उनकी रंगत के कारण बेबो ने ऐसा कहा और उनके झगड़े की और भी कई बातें हैं जो मीडिया के सामने आ नही पाई। फ़िल्म हिट हुई और दोनों के पास अच्छे संगीत और अपने हुनर को दिखाने का मौका था।

- Advertisement -

शाहरुख ने विलन बनने से किया था मना

अब्बास-मस्तान फ़िल्म में विक्रम बजाज यानी विलन के किरदार के लिए पहले बॉबी देओल को कास्ट करना चाहते थे। बॉबी इससे पहले सोल्जर फ़िल्म करके खूब प्रसिद्धि पा चुके थे। उन्होंने नकारात्मक किरदार करने से मना किया और राज मल्होत्रा के किरदार को चुना। खबरें बताती हैं कि विक्रम बजाज के लिए शाहरुख खान को भी अप्रोच किया गया था। बाजीगर के बाद शाहरुख फिर से विलन के किरदार में नही दिखना चाहते थे। जब अक्षय ने इस किरदार को हाँ कहा तब वे लगातार कई फ्लॉप देकर आ रहे थे। यह फ़िल्म उनके करियर के लिए मील का पत्थर साबित हुई और उनके अभिनय की खूब तारीफें हुई। बॉबी देओल वाले किरदार के लिए पहले अजय देवगन से संपर्क किया गया था लेकिन कुछ कारणों से उन्होंने इस प्रोजेक्ट से दूरी बना ली।

अमीषा पटेल थी पहली पसंद

कहो ना प्यार है की सफलता के बाद अमीषा पटेल को करीना वाले किरदार को आफर किया गया था, लेकिन उन दिनों वे ग़दर एक प्रेम कथा में व्यस्त होने के कारण इस फ़िल्म को नही कर पाई। बिपाशा से पहले इस फ़िल्म में महक चहल (Mahek Chahal) को कास्ट किया गया था लेकिन उन्होंने मना कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स बताते हैं कि प्रियंका चोपड़ा को भी बिपाशा वाले किरदार के लिए अप्रोच किया गया था लेकिन कुछ कारणों से वे यह फ़िल्म नही कर पाईं लेकिन बाद में वे अब्बास मस्तान की फ़िल्म ‘ऐतराज’ में अक्षय के साथ नज़र आई जिसमें बेबो भी थी। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स बताते हैं कि बिपाशा से पहले शिल्पा को भी संपर्क किया गया था लेकिन उन्होंने मना कर दिया था।

बिपाशा की आवाज़ को किसी और ने किया था डब

अजनबी के साथ गोविंदा की ‘क्योंकि मैं झूठ नही बोलता’ रिलीज हुई। इस फ़िल्म को कनाडा में भी रिलीज किया गया था। भारत के साथ अक्षय की प्रशंसा सभी जगहों पर हो रही थी। बहुत कम लोग जानते हैं कि बिपाशा की इस पहली फ़िल्म में उनके आवाज़ को किसी अन्य वॉइस डबिंग आर्टिस्ट के द्वारा डब करवाया गया था। इतना ही नही उनकी अगली फिल्म ‘राज़’ में भी उनकी असली आवाज़ सुनने को नही मिलती। अपने अल्बम से धूम मचाने वाले अदनान सामी को फिल्मी पर्दे पर अपनी आवाज़ का जादू चलाने का मौका इसी फिल्म के ज़रिए मिला था। फ़िल्म के हिट गाने ‘मेहबूबा महबूबा’ में उन्ही की आवाज़ थी। जब इस प्रोजेक्ट की घोषणा हुई थी तब इसे तलाश नाम से लांच किया गया था। बाद में इसका नाम अजनबी रखा गया। अक्षय के ससुर राजेश खन्ना भी अजनबी नाम से एक फ़िल्म कर चुके थे।

अजनबी को खूब पसंद किया गया। दर्शकों के साथ ही समीक्षकों ने भी पॉजिटिव रिव्यू लिखे थे। इस फ़िल्म में जॉनी लीवर की कॉमेडी सभी को पसंद आई थी। आज के दौर में अजनबी एक थ्रिलर के रूप में अपना अलग नाम रखती है। फिल्म का क्लाइमेक्स मस्कट, दुबई और बहरीन में भारतीय स्वामित्व वाले क्रूज लाइनर ओशन मेजेस्टी पर शूट किया गया था।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular