Thursday, September 22, 2022

रूस और युक्रेन के युद्ध के बीच भारत हो रहा आत्मनिर्भर

- Advertisement -

दुनिया भर में रूस और युक्रेन के युद्ध की चर्चा हो रही है. आए दिन कोई ना कोई खबर ऐसी आती है जो पढ़ने वाले के होश उढ़ा देती है. युक्रेन और रूस में युद्ध के चलते बाकी देशों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में सभी देश रुस के विरोध में है जिसके चलते रूस को तरह तरह की पाबंदियों का सामना करना पड़ रहा है, जैसे गूगल पे, ऐप्पल पे अथवा अन्य डिजीटल सेवाएं. इन सबके चलते रूस को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है, चूंकी आजकल सभी डिजीटल सेवाओं के आदी  बन चुके है इसलिए कैश का इस्तेमाल करना पड़ रहा है. इसके अलावा भी कई अन्य समस्याएं पैदा हो रही है.

युद्ध के बीच हो रही सरकार की जमकर तारीफ

जैसा की भारत कीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022-2023 के बजट में बताया था की भारत जल्द ही अपनी डिजीटल करंसी लॉच करेगा, उसी के चलते ट्वीटर पर मोदी सरकार की भर भर की तारीफ की जा रही है.

- Advertisement -

@bunbun_s ने मादी सरकार की तरीफ करते हुए  ‘अमेरिका ने पिछले कुछ वर्षों में अपने सिस्टम पर हरेक देश को निर्भर बना दिया। वो अपना एकछत्र साम्राज्य कायम करके मनमानी शर्तें मनवाता है, जैसा कि भारत में सोशल मीडिया कंपनियां कर रही हैं। यूपीआई और रूपे ने मास्टर कार्ड और विजा का दबदबा खत्म कर दिया। आरबीआई का डिजिटल रुपया इनके ताबूत में आखिरी कील साबित होगा’

 दूसरी तरफ @ramanathan_b आत्मनिर्भरता से जुड़े कुछ ज़रूरी बातें लिखते हैं, ‘भारत का अपना जीपीएस सिस्टम, अपना रुपे कार्ड, अपना यूपीआई सिस्टम, अपनी डिजिटल करेंसी, अपना सर्च इंजन, भारत का ‘₹’ एक्सचेंज सिस्टम, अपना सैटलाइट नेटवर्क, अपने रक्षा उपकरण, अपना ASAT नेटवर्क, अपना रक्षा उत्पादन, भारतीय फार्मा नेटवर्क… आत्मनिर्भरता के लिहाज से ये सब काफी महत्वूपूर्ण हैं।’

- Advertisement -

 

यह भी पढ़ें https://www.story24.in/क्रूज़ ड्रग्स केस में नया खुलासा, आर्यन खान के खिलाफ नहीं मिला कोई सबूत

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular