Saturday, September 24, 2022

भाजपा की प्रचंड जीत में कुछ भाजपाइयों को करना पड़ा हार का सामना

- Advertisement -

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर भाजपा ने अपनी रिकॉर्ड तोड़ जीत इतिहास के पन्नों में दर्ज की है. योगी आदित्यनाथ ने यह चुनाव जीतकर इतिहास रचा है यानि 37 साल बाद कोई प्रदेश के मुख्यमंत्री का दौर दोहरा रहा है. आपको बता दें की भाजपा ने भरी बहुमत से जीत दायर करते हुए सपा को हार का मुँह दिखाया है. जहाँ एक तरफ भाजपा ने इतिहासिक जीत दायर करी है वहीं कुछ भाजपाइयों को हार का मुँह भी देखना पड़ा. आइये जानते है इन नेताओं के नाम.

इन्होने लहराया जीत का परचम

- Advertisement -

लखनऊ कैंट से ब्रजेश पाठक ने सुरेंद्र सिंह गांधी को 30 हजार वोटों के अंतर से हार के दर्शन करवाए है. सुभासपा प्रमुख के बेटे अरविन्द राजभर को मात देने वाले अनिल राजभर ने वाराणसी से शिवपुर की सीट अपने नाम दर्ज कर ली है. मथुरा से श्रीकांत शर्मा, पश्चिम इलाहबाद से सिद्धार्थ नाथ और कपूर की महाराजपुर सीट से सतीश महाना ने जीत अपने नाम की है. इसी के साथ साथ देवरिया से पथरदेवा सीट पर सूर्य प्रताप शाही ने जीत का परचम लहराया है.
जहाँ एक तरफ भाजपा की बहुमतीय जीत की नीव इन नेताओं ने रखी वहीं दूसरी ओर कुछ भाजपाइयों ने किया हार का सामना.

यह भी पढ़ें-https://www.story24.in/योगी आदित्यनाथ के शपथ गृहण समारोह को लेकर अटकलें तेज़, पीएम मोदी और अमित शाह साथ आ सकते हैं नज़र

इन्होने खाई मात की मार

- Advertisement -

सपा के राम सिंह ने प्रतापगढ़ की पट्टी की सीट अपने नाम करते हुए भाजपाई राजेंद्र प्रताप सिंह को हराया है. सपा के जेपी अंचल ने बलिया की बैरिया सीट के लिए आनंद स्वरुप शुक्ला को मात दी. इतना ही नहीं डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या को भी हार का मुँह देखना पड़ा. सिराथू से विधानसभा की सीट के लिए लड़ रहे केशव प्रसाद मौर्या को सपा उमीदवार पल्लवी पटेल ने शिकस्त दी है.

यह भी पढ़ें-https://www.story24.in/एक्सपर्ट्स ने किया दावा, कोरोना का नया वेरिएंट हो सकता ज़्यादा घातक

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular