Thursday, September 22, 2022

हमेशा खुश रहने के लिए बेहद जरूरी है ये हार्मोन, जानिये बढ़ाने के तरीके

- Advertisement -

एक बैलेंस लाइफ जीने के लिए हमें जितनी जरूरत बाकी चीजों को होती है। उससे कही ज्यादा हमें हर पल में खुश रहने को भी होती है। क्योंकि खुशी का सीधा संबंध हमारे दिमाग से होता है और हम जितने हैप्पी रहते है उतना ही अच्छा हमारा मस्तिष्क चलने लगता है और बड़ी से बड़ी कठिनाइयां भी हमें छोटी लगने लगती है।

लेकिन क्या आपको पता है कि जब हमारे मन का कोई काम पूरा हो जाता है या फिर हमें हमारे मन जैसी कोई चीज मिल जाती है तो हमें खुशी का अहसास क्यों होता है। दरअसल जब हमें खुशी की अनुभूति होती है तो उस समय हमारे दिमाग में खुशी के हार्मोन रिलीज होते है। जिनमें मुख्य रूप से चार तरह के हार्मोन जिम्मेदार होते है। जिनका काम अलग अलग होता है। आइए विस्तार से जानते है इन हार्मोंस के बारे में और इन्हें बढ़ाने के तरीकों के बारे में।

सेरोटोनिन हार्मोन बढ़ाता है आत्मविश्वास

- Advertisement -

सबसे पहले बात करते है सेरोटोनिन हार्मोन के बारे में जिसका मुख्य कार्य हमारे मस्तिष्क को स्थिर रखना होता है। इसके अलावा भी ये हार्मोन हमारी नींद को कंट्रोल करने में अहम भूमिका निभाता है। इतना ही नहीं यही हार्मोन पाचन, तनाव, अवसाद , चिंता आदि को दूर करने के लिए जिम्मेदार है। अब ये तो आपको समझ आ गया होगा कि जब भी आपको उदासी महसूस हो तब ऐसे में आप इसी हार्मोन को बढ़ाने पर ध्यान दें।

सेरोटोनिन हार्मोन को बढ़ाने के तरीके

इस हार्मोन को बढ़ाने के लिए सबसे पहला चरण तो रोजाना व्यायाम करना है। अगर आप ऐसा रोजाना करते है तो इससे आपका खुद पर आत्मविश्वास बढ़ेगा और हर काम आपको आसान लगने लगेगा। इसके साथ ही आपको एक काम और करना होगा की आपके पास्ट में जो भी बुरा हादसा हुआ है उसके बारे में न सोचकर जो आपके पास है उसकी खुशी मनाए। ऐसा करने से इस हार्मोन की मात्रा हमारे मस्तिष्क में बढ़ेगी। वही अगर आप अपने पास्ट के बारे में सोचते रहे तो ये हार्मोन कम होना शुरू हो जाता है।के

अच्छा फील कराता है डोपामाइन हॉर्मोन

- Advertisement -

जब भी हमारे मन मुताबिक कोई काम हो जाता है, हमें कोई सम्मान मिलता है, हमें कोई मनचाही चीज मिल जाती है, हमें अपने लाइफ पार्टनर से अच्छा विहेब मिलता है या फिर हम अपने पसंद की कोई खाने को सामग्री खाते है तो हमारे मस्तिष्क में डोपामाइन हार्मोन रिलीज होता है। जिससे हमें खुशी की अनुभूति होती है और हम बार बार उसी काम को करने में दिलचस्पी दिखाना शुरू कर देते है।

जानिए डोपामाइन को बढ़ाने के तरीके

इसे बढ़ाने के लिए रोजाना छोटो छोटे लक्ष्य बनाने चाहिए और दिन के खत्म होते होते हमें वो लक्ष्य पूरे भी कर लेने चाहिए ऐसा करने से इस हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। या आप किसी खास नौकरी को पाने या बिजनेस सेट करने जैसे गोल बना सकते है। क्योंकि जब आप इनपर काम कर रहे होते है। उस स्थिति में ये हार्मोन लगातार बढ़ता जाता है। जो मस्तिष्क के लिए फायदेमंद है। साथ ही साथ अपने पसंद का भोजन करें लेकिन फास्ट फूड ज्यादा खाने पर कंट्रोल भी रखे।

प्यार के लिए जरूरी है ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन

ये हार्मोन लव हार्मोन के नाम से भी जाना जाता है। क्योंकि जब भी अपने पार्टनर या फैमिली के करीब होते है और उनसे हमें प्यार मिल रहा होता है। तब ये हार्मोन रिलीज होना शुरू कर देता है। इसके अलावा बच्चे को स्तनपान कराना, किसी को किस या हग करने से भी ये हार्मोन स्रावित होना शुरू हो जाता है।

ऑक्सीटोसिन को बढ़ाने के उपाय

इसे बढ़ाने के लिए आप अपने परिवार ले साथ समय बिताना शुरू करें। उन्हें हग करें अपने प्यार को जाहिर करें। अपने परिवार और दोस्तों के लिए कुछ अच्छा करें या उन्हे कोई उपहार भेंट करें। सुगंधित वातावरण में रहने की कोशिश करें। ऐसा करने से ये हार्मोन बढ़ता है।

दर्द को कंट्रोल करता है ये एंडोर्फिंस हॉर्मोन

ये हार्मोन मुख्य रूप से हमारे तनाव और दर्द को कम करने में अपनी भूमिका निभाता है। साथ ही इससे हमें खुशी का अनुभव भी होता है। इसकी कमी की वजह से हमें बुरा फील होने लगता है। साथ ही साथ हम तनाव, अवसाद और चिंता के शिकार हो जाते है। इसलिए कोशिश करें कि आप अपने दिमाग को कंट्रोल रखने की कोशिश करें।

बढ़ाने का तरीका

छोटी छोटे लम्हों में खुलकर हसने की कोशिश करें। इसके लिए ऐसे लोगों के साथ रहने की कोशिश करें। जिनके साथ आपको खुशी की अनुभूति होती हो। जब आप खुश रहेंगे तो ये हार्मोन तेजी से बढ़ना शुरू हो जाता है। इसके अलावा आप अपने मनपसंद संगीत, पसंदीदा भोजन आदि कर सकते है।

प्यार के लिए जरूरी है ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन

ये हार्मोन लव हार्मोन के नाम से भी जाना जाता है। क्योंकि जब भी अपने पार्टनर या फैमिली के करीब होते है और उनसे हमें प्यार मिल रहा होता है। तब ये हार्मोन रिलीज होना शुरू कर देता है। इसके अलावा बच्चे को स्तनपान कराना, किसी को किस या हग करने से भी ये हार्मोन स्रावित होना शुरू हो जाता है।

ऑक्सीटोसिन को बढ़ाने के उपाय

इसे बढ़ाने के लिए आप अपने परिवार ले साथ समय बिताना शुरू करें। उन्हें हग करें अपने प्यार को जाहिर करें। अपने परिवार और दोस्तों के लिए कुछ अच्छा करें या उन्हे कोई उपहार भेंट करें। सुगंधित वातावरण में रहने की कोशिश करें। ऐसा करने से ये हार्मोन बढ़ता है।

यह भी पढ़े : ये 7 चीजें कभी हुआ करती थीं हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा, आज हो गई हैं गायब

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular